jai jinendra

||JINDHARMA.COM में आपका स्वागत है||

|| हिंसा को मिटाने के लिये अहिंसा का प्रचार आवश्यक है ||

|| हमारा उद्देश्य ||

|| देव शास्त्र गुरु की वाणी को पूरे विश्व में पहुँचाना ||

|| सिर्फ धार्मिक कार्य भक्ति के कार्य मे उपयोग करना ||

|| इस वेब साइट में जैन सिद्धांत के नियम लागु होंगे ||

||भोजन या कुछ भी खाते समय, चरण पादुका पहन कर, अशुद्धी के समय इस वेब साइट का उपयोग ना करें||

|| इस वेब साईट की किसी भी सामग्री का दुरूपयोग करने पर कार्यवाही की जायेगी ||

Editor 1:- निशांत जैन “संचार”
ईमेल – nishant.jain35@gmail.com
मोबाइल – +91-8103435434, +91-09301301540

WhatsApp maintenance team:-
1.) Ankit Modi Bina
Mob. :- 7828005005
ankitmodi922@gmail.com

2.) Animesh Jain Bina
Mob: 9399975776

3.) Vikas Singhai Bina
Mob : 9202404829

Website maintenance team:-

1.)सुलभ मोदी पुणे
ईमेलjainsulabh125@gmail.com
मोबाइल +91-09158882198

2.) Ravindra Jain Bengaluru
Mob. :- 9591844670

3.) Milan Jain khaddar khurai
Mob. :- 8827518314
Email:- khaddarmilan04@gmail.com

4.) Sachin jain khurai
Mob. :- +919663711997

 
हमारे ग्रुप की ईमेल आई डी / our group email id:-
vidhyasagarsant@gmail.com
jinmandirlive@gmail.com
sutaksamadhan@gmail.com
shurutcare@gmail.com
jindharma11@gmail.com
ahimsanews@gmail.com
ahimsa108@gmail.com
tamrapatra108@gmail.com

हमारे ग्रुप की वेब साईटस / our group website:-

www.AhimsaNews.com
www.JinDharma.com

संबंधित WhatsApp ग्रुप – श्रुत केयर , AhimsaNews.com, AhimsaLive, JinmandirLive, JinDharma.com, JinShasan, VidyaSagarSant.com
Shrutsevasamuh, saiyamkirtistambh, santhshiromaniyogshivir, sadhupravas

   
फेसबुक – FACEBOOK

facebook.com/AhimsaNews
facebook.com/vidyasagarsant
facebook.com/JinDharma

Twitter –

twitter.com/AhimsaNews
twitter.com/vidhyasagarsant
twitter.com/JinDharma

Youtube channel

जिन धर्म
अहिंसा धर्म
VidyaSagarSant

एंड्राइड एप्प
AhimsaNews
JinDharma
VidhyaSagar Sant
 
 

आराधना का महा आयोजन

📿 🎪 चौबीस समवशऱण विधान एवं विश्व शांति महायज्ञ🎪
05 से 11 जनवरी 2021तक🌈
🎪 कार्यक्रम स्थल- त्रिमूर्ति दिगंबर जैन मंदिर मालथौन रोड खिमलासा जिला सागर (म प्र) 🎊
पुण्यवर्धन आशीर्वाद – परम पूज्य दिगम्बर सरोवर के राजहंस आचार्य श्री १०८ विद्यासागर जी महामुनिराज 🎉
ऊर्जामयी सानिध्य- 🌟 परम पूजय मुनि श्री 108 विमलसागर जी महाराज, मुनि श्री 108 अनंतसागर जी महाराज, मुनि श्री 108 धर्म सागर जी महाराज, मुनिश्री 108 अचलसागर जी महाराज मुनि श्री 108 भावसागर जी महाराज
अनोखा कार्यक्रम
05 जनवरी 2021मंगलवार प्रात: 8:30 बजे पात्र चयन ( त्रिमूर्ति मंदिर जी मालथौन रोड से )
06 जनवरी 2021 बुधवार प्रातः 8:00 बजे घटयात्रा बड़ा मंदिर जी से
त्रिमूर्ति मंदिर जी पहुंचेगी , श्री जी की शोभायात्रा के साथ फिर ध्वजारोहण होगा दोपहर 1 बजे विधान प्रारंभ
07 से 11 जनवरी 2021
प्रतिदिन प्रातः काल 7बजे अभिषेक, शांतिधारा ,पूजन ,विधान ,मुनि श्री के प्रवचन
शाम को 7 बजे मंगल आरती व रात्रि 8 बजे भैयाजी के द्वारा शास्त्र प्रवचन
11 जनवरी 2021 हवन एवं समापन
🎤 प्रतिष्ठाचार्य 🎤 💫 बा.ब्र. नितिन भैयाजी इंदौर
सह प्रतिष्ठाचार्य बा . ब्र. दीपक भैया टेहरका
मार्ग दर्शन बा. ब्र.राजा भैया
बा. ब्र. अमित टिंकू भैया
विशेष निवेदन शासन प्रशासन के नियमों का पालन सभी करें एवं सोशल डिस्टेंस और मास्क का प्रयोग करें
आयोजक एवं निवेदक सकल दिगंबर जैन समाज खिमलासा जिला सागर (म प्र)
संपर्क सूत्र:-9575541453
9425021304,9893099032,9993127943, 9993175686

खिमलासा 14/01/2021
विश्व के सभी लोगो के रोग दूर हो _मुनि श्री
170 नामों के उच्चारण के साथ ऊर्जामयी शांतिधारा इतिहास में प्रथम बार हुई
(सिद्धचक्र 128 .मंडल विधान विश्व शांति महायज्ञ का तृतीय दिन)
त्रिमूर्ति दिगंबर जैन मंदिर मालथौन रोड खिमलासा जिला सागर (म. प्र.) में
दिगम्बर सरोवर के राजहंस आचार्य श्री विद्यासागर जी महामुनिराज के शिष्य
मुनि श्री विमलसागर जी महाराज, मुनि श्री अनंतसागर जी महाराज, मुनि श्री धर्म सागर जी महाराज,मुनिश्री अचलसागर जी महाराज मुनि श्री भावसागर जी महाराज के सानिध्य में चल रहे सिद्धचक्र महामंडल विधान के तृतीय दिन धर्म सभा को .संबोधित करते हुए मुनि श्री विमल सागर जी महाराज ने कहा कि सभी के रोग दूर हो, सभी की गरीबी दूर हो, सभी के कष्ट दूर हो

14 जनवरी बुधवार को
प्रातः काल अभिषेक,170 नगर के परिवार वालो के नामों से शांतिधारा हुई , खिमलासा नगर के इतिहास में प्रथम बार पूजन मुनिश्री भाव सागर जी के मुखारविंद से हुई , विधान मुनिश्री विमल सागर जी के मुखारविंद से पढ़ा गया लोगों ने बड़े भक्ति भाव से नृत्य करके प्रभु की आराधना की
प्रतिदिन शाम को मंगल आरती व भक्तामर अर्चना हो रही है रात्रि में भैयाजी के द्वारा शास्त्र प्रवचन हो रहे है
यह कार्यक्रम प्रतिष्ठाचार्य ब्रह्मचारी नितिन भैयाजी( खुरई/ इंदौर) एवं सह प्रतिष्ठाचार्य ब्रह्मचारी दीपक भैया टेहरका एवं शुभांशु शहपुरा के मार्गदर्शन हुआ